चमत्कारी रतन एक्वामरीन

चमत्कारी रतन एक्वामरीन

 

चमत्कारी रतन एक्वामरीन, बैरूंज, gemstone, vastu cosmos, इसे हिंदी में बैरूंज कहते हैं लेकिन सामान्‍य रूप से यह सभी जगह ‘एक्‍वामरीन के नाम से ही जाना जाता है। इसके हल्‍के और समुद्री नीले रंग के कारण इसका नाम ‘एक्‍वामरीन’ पड़ा है। अपनी सुंदरता और ज्‍योतिष में इसकी उपयोगिता के कारण सभी उपरत्‍नों में यह सबसे ज्‍यादा प्रचलित रत्‍न है। इसे हिंदी में बैरूंज कहते हैं लेकिन सामान् रूप से यह सभी जगहएक्वामरीन के नाम से ही जाना जाता है। इसके हल्के और समुद्री नीले रंग के कारण इसका नामएक्वामरीनपड़ा है। अपनी सुंदरता और ज्योतिष में इसकी उपयोगिता के कारण सभी उपरत्नों में यह सबसे ज्यादा प्रचलित रत् है।यह कठोर रत्नों में से एक है। वैदिक ज्योतिष के अनुसार एक्वामरीन शुक्र का उपरत् है और अत: शुक्र से संबंधित अच्छे लाभ प्राप् करने के लिए इसे पहना जाता है। हीलिंग थेरेपी में भी यह रत् अपनी उपयोगिता रखता है।

चमत्कारी रतन एक्वामरीन, vastu cosmos
चमत्कारी रत न एक्वामरीन

इस रत् को समुद्र से जोड़कर भी देखा जाता है अत: यह मन और हृदय से संबंधित है।ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शुक्र से संबंधित अच्छे प्रभावों को प्राप् करने के लिए एक्वामरीन धारण किया जाता है। साथ ही इसको धारण करने से व्यक्ति की प्रगति में कोई बाधा नहीं आती और वह समुद्र के समान विशालता और निरंतर चलने वाले गुण से बहुत नाम और धन प्राप् करता है।

ऐसा प्रचलन है कि लंबी समुद्री यात्राओं से पहले इसे गुडलक के लिए पहना जाता था। शुक्र से संबंध प्रेम से भी जोड़ता है। इसे पहनने से लवलाइफ में पॉजिटिविटी आती है।

यह इंडोक्राइन ग्लेंड पर भी सकारात्मक प्रभाव डालता है साथ ही हार्मोंनल बेलैंस को भी बरकरार रखता है।

अन्य आध्यात्मिक जानकारी के लिए हमें फेसबुक और इंस्टाग्राम पर फॉलो करें

https://www.instagram.com/vastucosmos/

https://www.facebook.com/vastucosmos/

Summary
चमत्कारी रतन एक्वामरीन
Article Name
चमत्कारी रतन एक्वामरीन
Description
चमत्कारी रतन एक्वामरीन, vastu cosmos gemstone इसे हिंदी में बैरूंज कहते हैं लेकिन सामान्‍य रूप से यह सभी जगह ‘एक्‍वामरीन के नाम से ही जाना जाता है। इसके हल्‍के और समुद्री नीले रंग के कारण इसका नाम ‘एक्‍वामरीन’ पड़ा है। अपनी सुंदरता और ज्‍योतिष में इसकी उपयोगिता के कारण सभी उपरत्‍नों में यह सबसे ज्‍यादा प्रचलित रत्‍न है।
Author
Publisher Name
Vastu Cosmos
Publisher Logo

Have a query related to Vastu ?