Sale!

Conch Shell | Shankh | शंख

2,000.00 900.00

Category:

Description

Conch Shell | Shankh | शंख

Conch Shell, Shankh, शंख, Vastu Cosmos एक सागर के जलचर द्वारा बनाया हुआ ढाँचा है,

जो कि ज्यादातर पेचदार वामावर्त या दक्षिणावर्त

में बना होता है। यह हिन्दु धर्म में अति पवित्र माना जाता है। यह धर्म का प्रतीक माना जाता है।

यह भगवान विष्णु के दांए ऊपरी हाथ में होता है। धर्मिक अवसरों पर इसे फूँक कर बजाया भी

जाता हैद्य भगवान विष्णु का शंख पाञ्चजन्य है। विष्णु के अवतार श्रीकृष्ण पाञ्चजन्य नामक एक शंख रखते थे

ऐसा वर्णन महाभारत में प्राप्त होता है। श्रीमद्भगवद्गीता जो कि महाभारत का अंग है

उस में वासुदेव श्रीकृष्ण द्वारा कुरुक्षेत्र युद्ध के दौरान इसका इस्तेमाल किया गया है।

पूजापाठ में शंख बजाने का चलन युगोंयुगों से हैद्य देश के कई भागों में लोग शंख को पूजाघर में रखते हैं

और इसे नियमति रूप से बजाते हैं. ऐसे में यह उत्सुकता एकदम स्वाभाविक है कि शंख

केवल पूजाअर्चना में ही उपयोगी है या इसका सीधे तौर पर कुछ लाभ भी हैद्य

दरअसल, सनातन धर्म की कई ऐसी बातें हैं, जो केवल आध्यात्मिक रूप से, बल्कि कई दूसरे तरह से भी फायदेमंद हैं.

शंख रखने, बजाने इसके जल का उचित इस्तेमाल करने से कई तरह के लाभ होते हैं.

कई फायदे तो सीधे तौर पर सेहत से जुड़े हैं. पूजा में शंख बजाने और इसके इस्तेमाल से निम्न फायदे होते हैं.

Conch Shell | Shankh | शंख, vastu cosmos के लाभ

ऐसी मान्यता है कि जिस घर में शंख होता है, वहां लक्ष्मी का वास होता है.

धार्मिक ग्रंथों में शंख को लक्ष्मी का भाई बताया गया है, क्योंकि लक्ष्मी की तरह शंख भी

सागर से ही उत्पन्न हुआ है. शंख की गिनती समुद्र मंथन से निकले चैदह रत्नों में होती है.

शंख को इसलिए भी शुभ माना गया है, क्योंकि माता लक्ष्मी और

भगवान विष्णु, दोनों ही अपने हाथों में इसे धारण करते हैं.

पूजापाठ में शंख बजाने से वातावरण पवित्र होता है. जहां तक इसकी आवाज जाती है,

इसे सुनकर लोगों के मन में सकारात्मक विचार पैदा होते हैं.

अच्छे विचारों का फल भी स्वाभाविक रूप से बेहतर ही होता है

शंख के जल से शिव, लक्ष्मी आदि का अभिषेक करने से ईश्वर प्रसन्न होते हैं

और उनकी कृपा प्राप्त होती है.

ब्रह्मवैवर्त पुराण में कहा गया है कि शंख में जल रखने और इसे छड़िकने से वातावरण शुद्ध होता हैद्य

शंख की आवाज लोगों को पूजाअर्चना के लिए प्रेरित करती है.

ऐसी मान्यता है कि शंख की पूजा से कामनाएं पूरी होती हैं. इससे दुष्ट आत्माएं पास नहीं फटकती हैं.

वैज्ञानिकों का मानना है कि शंख की आवाज से वातावरण में मौजूद कई तरह के

जीवाणुओंकीटाणुओं का नाश हो जाता है. कई प्रयोगों से इस तरह के नतीजे मिले हैंद्य

आयुर्वेद के मुताबिक, शंख की भस्म के उपयोग से पेट की बीमारियां,

पथरी, पीलिया आदि कई तरह की बीमारियां दूर होती हैंद्य

शंख बजाने से फेफड़े का व्यायाम होता है. पुराणों के जिक्र मिलता है कि अगर श्वास

का रोगी नियमित तौर पर शंख बजाए, तो वह बीमारी से मुक्त हो सकता हैद्य

शंख में रखे पानी का सेवन करने से हड्डियां मजबूत होती हैं. यह दांतों के लिए भी लाभदायक है.

शंख में कैल्शयिम, फास्फोरस गंधक के गुण होने की वजह से यह फायदेमंद हैद्य

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Conch Shell | Shankh | शंख”

Your email address will not be published. Required fields are marked *